ICC CT 2017: पाकिस्तान ने भारत को 180 रनों से हराया, खिताब पर पहली बार कब्ज़ा जमाया

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल मुकाबले में सलामी बल्लेबाज़ फखर ज़मान (114) के पहले शानदार शतक की बदौलत पाकिस्तान ने भारत के सामने खिताब को जीतने के लिए 50 ओवर में 339 रन का लक्ष्य रखा। पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने अपने खेल का बेहतरीन नमूना पेश करते हुए भारतीय गेंदबाजों को जमकर परेशान किया, जिसके बाद पाकिस्तानी गेंदबाजों ने भारतीय बल्लेबाज़ी की कमर तोड़ डाली, वहीँ मोहम्मद आमिर (16/3) की खतरनाक गेंदबाजी की बदौलत पाकिस्तान ने भारत को 180 रनों से पराजित कर पहली बार आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के खिताब को अपने कब्ज़े में ले लिया।

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले पाकिस्तान को बल्लेबाजी करने का न्योता दिया, जिसके बाद दोनों ही सलामी बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 23 ओवर में 128 रन जोड़े, वहीँ अज़हर अली (59) के रूप में पाकिस्तान को पहला झटका लगा। उनको जसप्रीत बुमराह ने रन आउट किया। फखर ज़मान को हार्दिक पांड्या ने रविन्द्र जडेजा के हाथों की शोभा बनाया। उन्होंने खूबसूरत शतकीय पारी खेली। उनके अलावा बाबर आज़म (46) ने भी जुझारू पारी खेली और अपनी टीम के स्कोर में अहम योगदान दिया। उनको पार्टटाइम स्पिनर केदार जाधव ने युवराज सिंह के हाथों कैच कराया, लेकिन शोएब मालिक (12) ने अपनी टीम को निराश किया। उनको तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार ने अपना शिकार बनाया। इसके बाद मोहम्मद हफीज (57*) ने कुछ आक्रामक शॉट्स खेलकर मैदान में मौजूद दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया, वहीँ इमाद वसीम (25*) ने भी भारतीय गेंदबाजों को जमकर परेशान किया, जिसकी बदौलत पाकिस्तान ने भारत के सामने 50 ओवर में – का स्कोर खड़ा किया। मोहम्मद हफीज और इमाद वसीम दोनों ही नाबाद वापस पवेलियन लौटे।

टीम इंडिया की तरफ से भुवनेश्वर कुमार सबसे सफल गेंदबाज़ रहे। उन्होंने अपने 10 ओवर में 2 मेडेन डाले, जिसमें उन्होंने 44 रन खर्च किए और 1 विकेट भी हासिल किया। उनके अलावा हार्दिक पांड्या और केदार जाधव को 1-1 विकेट हासिल हुआ। रविन्द्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन और जसप्रीत बुमराह को कोई भी सफलता प्राप्त नहीं हो सकी।

गौरतलब है कि पाकिस्तान आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पहली बार पहुंची है, वहीँ इस टीम ने भारत के सामने खिताब को जीतने के लिए 339 रन का विशाल लक्ष्य रखा था। अगर भारत इस लक्ष्य को हासिल करने में कामयाब हो जाता, तो यह तीसरा मौका होता, जब टीम इंडिया आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के खिताब को तीसरी बार अपने कब्ज़े में कर लेती।

जवाब में भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही, जहां रोहित शर्मा (0) के रूप में टीम इंडिया को सबसे पहला झटका लगा। उनको तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद आमिर ने अपना शिकार बनाया। इसके बाद कप्तान विराट कोहली (5) को भी मोहम्मद आमिर ने बहुत जल्दी पवेलियन भेज दिया। शिखर धवन (21) और युवराज सिंह (22) ने भी अपनी टीम के लिए कुछ ख़ास नहीं किया और सस्ते में ही वापस पवेलियन लौट गए। महेंद्र सिंह धोनी (4), केदार जाधव (9) ने भी ख़ासा मायूस किया, लेकिन हार्दिक पांड्या (76) ने तूफानी पारी खेली, जहां उन्होंने 43 गेंदों में 6 गगनचुम्बी छक्के और 4 शानदार चौके जमाए। उन्होंने पाकिस्तानी स्पिनर शादाब खान के एक ओवर में लगातार 3 छक्के जमाए। रविन्द्र जडेजा (15) भी कुछ ख़ास नहीं कर सके। रविचंद्रन अश्विन (1) भी सस्ते में पवेलियन लौट गए।

पाकिस्तानी गेंदबाजों ने अपनी खतरनाक गेंदबाजी की बदौलत भारतीय बल्लेबाज़ी को बैकफुट पर धकेल दिया, जिसकी बदौलत भारत पूरी पारी में दबाव में बना रहा, जिसके बाद पाकिस्तान ने अपने शानदार खेल की लय को बरकरार रखते हुए भारतीय पारी को 30.3 ओवरों में 158 के स्कोर पर ही समेट दिया और पहली बार खिताब पर कब्ज़ा जमा लिया।

पाकिस्तान की तरफ से सबसे मोहम्मद आमिर 3, हसन अली 3, शादाब खान 2 और जुनैद खान को 1 विकेट हासिल हुए। तेज़ गेंदबाज़ हसन अली ने अपनी बेहतरीन गेंदबाज़ी का नज़ारा पेश करते हुए टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा विकेट प्राप्त किए। पाकिस्तान ने आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल में शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए भारत को एकतरफा पराजित किया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *